Uncategorized

WHAT TO DO IN RCM ?

हमें RCM में सफल होने के लिए निम्नलिखित कार्य करने होते हैं

1.Retailing.(बेचना )

यदि हमें कोई फैक्ट्री लगानी हो तो हमें बहुत से काम करने होते हैं | फैक्ट्री को शुरू करने में सालों लग जाते हैं
जबकि पैसा केवल sales से मिलता है| | हमें यह समझना है कि — फैक्ट्री लगाने के काम आरसीएम ने कर दिया है| हमें केवल Retailing करना है और यह मानना है कि यह सारी फैक्ट्रियां मेरी है|

ब्रांड एंबेसडर.Brand Ambasdor

आप अपने सभी प्रोडक्टों के ब्रांड एंबेसडर हैं | आपको प्रोडक्ट्स का एडवर्टाइजमेंट करना है | इसके लिए आपको प्रोडक्ट यूज करके खुद फिट रहना है |

यदि आप स्वस्थ हैं एनर्जेटिक हैं तो आप कह सकते हैं की न्यूट्रीचार्ज के प्रयोग से व्यक्ति लंबे समय तक जवान रह सकता है|
हमारे सिस्टम में प्रचार करवाने का काम किसी नेता अभिनेता या खिलाड़ी से नहीं करवाया जाता | इसमें तो प्रचार करने वाले आप और हम ही हैं|

Pipe-Line का निर्माण –

RCM मैं हम एक ऐसी पाइपलाइन का निर्माण करते हैं जिसमें पानी नहीं रुपए आते हैं| अपनी बात को समझाने के लिए मैं आपको एक कहानी सुना रहा हूं——
एक गांव में 2 बच्चे रहते थे| जब उन्होंने अपनी शिक्षा पूरी कर ली तो उनके सामने प्रश्न खड़ा हुआ कि हम क्या करें ? वे अपने गांव के सरपंच के पास गए और उनसे अपने लिए कोई काम मांगा|
सरपंच ने उनसे कहा कि हमारे गांव से 5 किलोमीटर दूर एक मीठे पानी की झील है| आपको वहां से बाल्टीया भर भर के पानी लेकर आना है और आपको हर बाल्टी पर कुछ पैसे दिए जाएंगे|
दोनों बच्चों ने यह काम खुशी-खुशी आरंभ कर दिया| कुछ समय के बाद एक ने कहा कि भाई यह तो कोई काम नहीं हुआ हम सारा दिन पानी की बाल्टी ही ढोते रहेंगे|
दूसरे ने उसे सुझाव दिया कि हमें बड़ी मुश्किल से काम मिला है हमें लगातार यह काम करते रहना चाहिए| लेकिन पहले वाला नहीं माना उसने विचार किया था कि हमें झील से गांव तक एक पाइपलाइन बिछा देनी चाहिए जिससे पानी अपने आप वहां पहुंचने लग जाए|
सब ने उसका विरोध किया लेकिन वह अपने काम में लग गया| वह रोज 8 घंटे पानी लाता और 2 घंटे पाइप लाइन बिछाने का काम करता| यह काम बहुत धीमी गति से हो रहा था| लेकिन लगातार मेहनत करने के कारण 5 साल में उसकी पाइपलाइन बनकर तैयार हो गई|
अब गांव तक पानी अपने आप आने लगा उसका काम था केवल खड़े रहकर पानी की टूटी खोलना और लोगों से पैसे लेना| धीरे-धीरे आस-पास के गांव में भी उसने इसी तरीके से काम करना आरंभ कर दिया और वह अपने इलाके का सबसे अमीर व्यक्ति बन गया|
हमें अब सोचना है क्या हम वैसा ही काम तो नहीं कर रहे कि बाल्टियों से पानी ढो करके अपने घर में ला रहे हो|

4.ऐसेट क्रिएशन.

जब हम एक दुकान की रजिस्ट्री कराते हैं तो हमारे दिमाग में यह होता है कि आने वाले समय में हर महीने मुझे इससे किराए के रूप में आमदनी होगी. जब हम एक डिस्ट्रीब्यूटर को ज्वाइन कर आए तो भी हमें ऐसा ही सोचना है कि आने वाले समय में यह मेरे लिए एक बहुत बड़ी एसेट बनेगा

Family relation

नेटवर्क मार्केटिंग में हमारे और हमारे डिस्ट्रीब्यूटर के बीच खून का रिश्ता तो नहीं होता लेकिन हम एक परिवार जैसे अवश्य बन जाते हैं|
हमारा बिज़नेस इस बात पर निर्भर नहीं करता कि हम कितने व्यक्तियों को जोड़ते हैं बल्कि इस बात पर निर्भर करता है कि हम उनसे संबंध कैसे बनाते हैं|
हमारा काम है एक नए व्यक्ति को यह विश्वास दिलाना कि आने वाले समय में जब तक आप सफल नहीं हो जाते, आप रॉयल्टी और टेक्निकल अचीवर नहीं बन जाते मैं आपके साथ रहूंगा|


.दूसरों की जिंदगी में परिवर्तन

जब एक व्यक्ति नौकरी या बिजनेस करता है तो किसी दूसरे व्यक्ति के जीवन में कोई सहायता नहीं कर सकता| लेकिन हम आरसीएम में बहुत से लोगों के जीवन में बड़ा परिवर्तन पैदा कर सकते हैं| ना केवल उन्हें पैसे कमाने के तरीके सिखा सकते हैं बल्कि उनको बहुत सारा खाली समय और सिक्योरिटी दिलाने में भी मदद कर सकते हैं|
हम बहुत से लोगों की जिंदगी में सुधार करने के साधन बन सकते हैं|
समुद्र किनारे मछलियों की कहानी—-
ज्वार भाटा आने के बाद बहुत सी मछलियां समुद्र के किनारे पर पानी से बाहर आकर तड़फ रही थी और एक बुजुर्ग व्यक्ति एक एक मछली को उठाकर के समुद्र में डाल रहा था| कुछ नौजवान वहां से गुजरे और उन्होंने कहा अंकल जी क्या कर रहे हो
लेकिन उस बुजुर्ग ने कोई ध्यान नहीं दिया वह अपने काम में लगारहा | कुछ समय के बाद जब वो नौजवान घूम कर वापस आए तो उन्होंने देखा कि वह बुजुर्ग अभी मछलियों को उठा उठा कर के समुद्र में फेंक रहा था|
उन्होंने कहा क्या फर्क पड़ जाएगा लाखों मछलियां इस तट पर पड़ी है|
बुजुर्ग आदमी कुछ नहीं बोला, उसने केवल एक मछली को उठाया, समुद्र में डाला और कहा इसके जीवन में तो फर्क पड़ गया|

Freedom creation (4yr)

हमें सुखी जीवन जीने के लिए मनी फ्रीडमऔर टाइम फ्रीडम की अत्यंत आवश्यकता होती है लेकिन ना तो यह नौकरी में होती है और ना ही बिजनेस में|
हमारा यह सिस्टम रॉयल्टी बेस्ड सिस्टम होता है इसलिए इसमें यह दोनों फ्रीडमहोती है|
नौकरी या दुकान करने वालेलोग 40 साल की नौकरी के बाद रिटायर होते हैं और इस कार्य में केवल 4 साल के बाद हम रिटायर हो सकते हैं, आवश्यकता है केवल 4 साल तक पूरे डेडिकेशन के साथ काम करने की|

 

Self development.

दुनिया में कोई भी नौकरी या कोई भी बिजनेस ऐसा नहीं है जिसमें हमें सेल्फ डेवलपमेंट की इतनी अवसर प्राप्त होते हो. जबकि आरसीएम में हमें सीखने के लिए बहुत कुछ मिलता है| जब हम नए-नए लोगों के संपर्क में आते हैं तो उनकी भाषा, उनका कल्चर, उनका पहनावा व उनका खाना पीना और उनके तौर-तरीकों के बारे में हमें जानकारी प्राप्त होती है|




 




 

 

 

  1.  
  1.  

User Rating: 4.5 ( 1 votes)
Tags

Jitender Sharma

Retaired Vice Principal Cerified Yoga Teacher. M. D. (Accupressure ) Certified Nutrition Counsler Technical Achiever RCM With 10 years experience in network marketing.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also
Close
Back to top button
Close